दोस्तों यह लव स्टोरी उस समय की है जब मैं और मेरा दोस्त सुनील रक्तदान करने के लिए अस्पताल गए थे। 

कुछ देर बाद वहां एक नर्स आती हैं जिसको देखते ही मैं उसका दीवाना हो गया था।  

जब वह मुझसे बात कर रही थी तुम्हें उसके चेहरे की ओर ही देख रहा था। 

मैं रोजाना बहाना बनाकर उससे मिलने अस्पताल जाने लगा।  

मैं हर कीमत पर गुनगुन का प्यार पाना चाहता था। 

जिस दिन तुम अच्छी जॉब करने लग जाओगे, उस दिन मैं खुद तुम्हें प्रपोज करूंगी। 

उस दिन से ही मैं तुम्हें प्यार करने लग गई थी लेकिन तुम्हें अच्छी जॉब करवाने के लिए मेरे पास इससे अच्छा मौका नहीं था। 

उसने कहा - क्या तुम्हें मैं इतनी पसंद हूं जो मेरे बिना एक पल भी नहीं रह सकते। 

दोनों की व्हाट्सएप पर गुड मॉर्निंग से शुरुआत होती थी।  

ने और गुनगुन ने शादी से पहले खूब रोमांस किया था। 

दोस्तों यह लव स्टोरी को पूरा पढ़ने के लिए लिंक पर क्किक करे