सच्चे प्यार का पछतावा – A Very Heart Touching True Love Story In Hindi 1

सच्चे प्यार का पछतावा | A Very Heart Touching True Love Story In Hindi – दोस्तों यह लव स्टोरी मेरे एक अच्छे दोस्त की है। जिसने मुझे कुछ ही दिनों पहले इस लव स्टोरी के बारे में बताया था। मेरे दोस्त का नाम महेश है और उसकी गर्लफ्रेंड का नाम नेहा था। आशा करता हूं कि यह लव स्टोरी आपको बहुत पसंद आएगी।

सच्चे प्यार का पछतावा | A Very Heart Touching True Love Story In Hindi –

यह लव स्टोरी उस समय की है जब मैं और महेश एक साथ कॉलेज में पढ़ाई करते थे। उस समय कॉलेज की सबसे सुंदर लड़की नेहा से महेश की दोस्ती हो गई थी। धीरे-धीरे दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई। दोनों एक दूसरे को बहुत प्यार करते थे। महेश और नेहा के प्यार के चर्चे पूरे कॉलेज में फैल गई, लेकिन इन दोनों को अपने प्यार को लेकर कोई भी चिंता नहीं थी।

दोनों एक साथ ही कॉलेज आते थे और एक साथ ही वापस जाते थे। नेहा से महेश के बारे में कोई कुछ भी कहे वह बर्दाश्त नहीं करती थी। एक दिन महेश और मेरे बीच झगड़ा हो जाता है तो नेहा बीच में आकर मुझे जोरदार चांटा मार देती है। मुझे काफी गुस्सा आया और महेश को भला बुरा कहने लगा लेकिन महेश के कहने की बजाय नेहा मुझसे झगड़ा करने लगा। Very Heart Touching True Love Story

मैं महेश से नाराज होकर वहां से चला गया। अब हम दोनों एक दूसरे के दुश्मन बन गए थे। कॉलेज के अंदर अध्यक्ष पद के लिए चुनाव चल रहे थे। एक तरफ मैं अध्यक्ष पद के लिए खड़ा हो गया जबकि दूसरी तरफ नेहा ने महेश को मेरे खिलाफ खड़ा कर दिया। कॉलेज में मेरा व्यवहार सभी से अच्छा था, जबकि महेश नेहा के अलावा किसी के बारे में कुछ भी नहीं सोचता था।

कुछ ही दिनों में हमारे अध्यक्ष पद के चुनाव हो गए। अब केवल रिजल्ट आना बाकी था। मुझे उम्मीद नहीं थी कि मैं इस चुनाव में जीत हासिल करूंगा लेकिन कॉलेज के साथियों की वजह से मैंने जीत प्राप्त कर ली। अध्यक्ष पद पर जीत घोषित करने के बाद महेश मुझे बधाई देने के लिए आ गया। मैंने भी महेश को गले लगाया और अपनी जीत की पार्टी में शामिल किया। Very Heart Touching True Love Story

महेश, नेहा के द्वारा की गई बदतमीजी की वजह से मुझसे माफी मांगने लगा तो मैंने कहा – कोई बात नहीं, तू मेरा सबसे अच्छा दोस्त है। मुझे पता था तू मेरे बिना नहीं रह सकता है। अब मैं और महेश फिर से अच्छे दोस्त बन गए थे, हमारे दोनों के बीच किसी भी प्रकार का कोई झगड़ा नहीं था।

जब इस बात का पता नेहा को चला तो वह महेश से नाराज हो गई। कॉलेज का अध्यक्ष बनने के बाद मैं अपने केबिन में बैठा हुआ था। तभी अचानक नेहा वहां आ जाती है और मुझसे झगड़ा करने लगती है। तभी मैंने कहा – मैंने तुम्हारा क्या बिगाड़ा है जो तुम बार-बार मुझसे झगड़ा करने के लिए आ जाती हो। Very Heart Touching True Love Story

नेहा ने कहा – मैं महेश से प्यार करती हूं और मैं नहीं चाहती कि महेश तुम्हारे साथ रहे।

मैं – महेश मेरा सबसे अच्छा दोस्त है। उसके लिए मैं अपनी जान भी दे सकता हूं। पहले भी तुम्हारी वजह से ही हमारे बीच झगड़ा हुआ था।

इतनी बातचीत हो जाने के बाद नेहा गुस्से में वहां से निकल जाती है। महेश को इस बारे में कोई भी जानकारी नहीं थी। शाम के समय मैं और महेश एक साथ बाहर घूमने आए हुए थे। तभी अचानक नेहा महेश को कॉल करती है और कहती है – अगर तुम गुस्सा ना हो तो तुमसे एक बात कहूं।

महेश कहता है – आज तक मैंने तुम्हारी बातों पर गुस्सा ही नहीं किया है तो आज क्यों करूंगा। बताओ क्या बात है।

नेहा – मुझे ऐसा लगता है कि अब हमें एक दूसरे से अलग हो जाना चाहिए, क्योंकि तुम्हें मैं नहीं बल्कि तुम्हारा दोस्त चाहिए। Very Heart Touching True Love Story

महेश – वह मेरा दोस्त है और तुम मेरा प्यार हो! तुम दोनों के बिना मैं अधूरा हूं।

नेहा – आज तुमको मेरे और तुम्हारे दोस्त में से किसी एक का चयन करना होगा। अगर तुम मुझे पाना चाहते हो तो तुम्हें अपने दोस्त को छोड़ना पड़ेगा।

महेश – नेहा! क्यों पागलों जैसी बात कर रही हो। मैं तुम्हें कल मिलता हूं और हम दोनों बैठकर इस बारे में बात करेंगे।

नेहा – मुझे पता है तुम अपने दोस्त को नहीं छोड़ सकते। इसलिए अब हम दोनों को ब्रेकअप कर लेना चाहिए।

नेहा के गुस्से भरी बातें सुनकर महेश को एकदम झटका सा लगा और पास एक दीवार पर बैठ गया। कुछ देर शांत रहने के बाद महेश ने जवाब दिया – अगर तुम्हें लगता है कि तुम मेरे बिना खुश रह सकती हो तो जो तुम ठीक समझो वही होगा।

नेहा – मैं सीरियस होकर बात कर रही हूं। अब मुझे तुम्हारी कोई जरूरत नहीं है। मैं किसी और से प्यार करती हूं और वह भी मुझसे अपनी जान से भी प्यार करता है। Very Heart Touching True Love Story

इतना सुनने के बाद महेश नेहा से ब्रेकअप करने की बात कह देता है। कुछ देर बाद नेहा फोन डिस्कनेक्ट कर देती है और महेश को फेसबुक, इंस्टाग्राम, व्हाट्सएप यानी सोशल मीडिया के सभी प्लेटफार्म से ब्लॉक कर देती है। नेहा से ब्रेकअप होने के बाद महेश काफी टूट चुका था। महेश के लिए इस सदमे से निकलना काफी मुश्किल हो गया था क्योंकि वह सिर्फ नहीं आ कोई अपनी जान से अधिक प्यार करता था। परंतु नेहा ने बिना कुछ सोचे समझे सिर्फ दो मिनट में ही सब कुछ बिखेर कर रख दिया।

धीरे-धीरे महेश काफी कमजोर होता चला गया। मैंने और उसके दोस्तों ने महेश को काफी समझाया और संभलने का हौसला बढ़ाया। मैंने समझाया कि जो छोड़कर चला गया उसके लिए कैसा रोना और कहा – वह लड़की तेरे लायक नहीं थी। दुख मनाने की वजाय ईश्वर का शुक्रिया अदा कर कि वह तुझको पहले ही छोड़ कर चली गई। पूरी जिंदगी एक बेवफा के लिए निकाल देना अच्छी बात नहीं है। Very Heart Touching True Love Story

महेश और नेहा के बीच ब्रेकअप पूरे लगभग 3 माह हो चुके थे। महेश ने अपने हालातों से समझौता कर लिया था और वह कुछ नया करके दिखाना चाहता था। उसने फिर से पढ़ाई पर ध्यान देना शुरू कर दिया। कुछ दिनों बाद महेश की मुलाकात वंदना नाम की एक लड़की से हुई। पहली नजर में ही उस लड़की को महेश से प्यार हो गया था। वंदना महेश से नेहा से भी अधिक प्यार करती थी।

एक दिन हम दोनों शाम के समय एक पार्क में बैठे हुए थे। तभी वंदना भी वहां पर पहुंच जाती है और बिना कुछ सोचे समझे महेश को प्रपोज कर देती है। मैं उन दोनों को अकेला छोड़ कर वहां से चला गया। कुछ यह दिनों बाद महेश और वंदना घरवालों की मर्जी से एक दूसरे से शादी कर लेते हैं। अब मैं अपनी जिंदगी में बहुत खुश था।

लगभग छह महीने बाद एक दिन अचानक नेहा ने कॉल किया और कहा – कैसे हो महेश। Very Heart Touching True Love Story

महेश – ठीक हूं! तुम सुनाओ कैसे याद किया है। इतना सुनने के बाद नेहा जोर-जोर से रोने लगी। इधर में इस बार बार पूछ रहा था कि आखिर क्या हुआ है जो तुम रो रही हो।

तभी नेहा कहती है – मेरे बॉयफ्रेंड मुझे धोखा दिया है। वह मुझे छोड़ कर चला गया है। मैं वापस तुम्हारे पास आना चाहती हूं।

महेश – नेहा! मेरी शादी हो चुकी है। अब मैं तुम्हारा नहीं हो सकता और वैसे भी उस दिन मैं भी बहुत रोया था लेकिन तुमने मेरी एक भी बात नहीं सुनी थी।

नेहा – प्लीज मुझे माफ कर दो! मैं आगे से ऐसा कभी नहीं करूंगी।

महेश – अब मैं वंदना से प्यार करता हूं और वह भी मुझसे बहुत प्यार करती है। मैं उसे धोखा नहीं दे सकता और वह मेरी पत्नी है। तुम्हें इस मुश्किल घड़ी में मेरी तरह खुद ही खड़ा होना होगा। Very Heart Touching True Love Story

तभी नेहा कहती है – मैं तुमसे बहुत प्यार करती हूं और तुम्हारे बिना नहीं जी सकती हूं। महेश, नेहा से कहता है प्लीज मुझे दोबारा कॉल मत करना। मैं नहीं चाहता कि तुम्हारी वजह से वंदना मेरे बारे में गलत सोचे। इतना कहने के बाद महेश ने फोन डिस्कनेक्ट कर दिया। उसके बाद हम दोनों अपने अपने घर चले जाते हैं।

अब महेश वंदना के साथ अपने जीवन में बहुत खुश है और वंदना भी महेश से बहुत प्यार करती है। जब भी मैं महेश के घर जाता हूं तो देखता हूं कि दोनों बहुत हंसी मजाक करते हैं। मैं यही चाहता हूं कि हर लड़के को वंदना जैसे ही लड़की मिले। Very Heart Touching True Love Story

दोस्त अगर आपको महेश कि यह लव स्टोरी पसंद आई हो तो कमेंट करके जरूर बताएं और साथ में यह भी बताएं कि महेश ने नेहा के साथ गलत किया या सही किया है। यह लव स्टोरी अपने दोस्तों के साथ शेयर करना बिल्कुल भी ना भूले।

Also Read – मेरी और मेघना की लव स्टोरी – Most Romantic Love Story In Hindi 2

प्यार में एक दूसरे को समझना जरुरी है | Love Story in Hindi Heart

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles