- Advertisement -

Best School Love Story In Hindi | दिल को छूने वाली स्कूल लव स्टोरी 2022

Best School Love Story In Hindi | दिल को छूने वाली स्कुल लव स्टोरी 2022 – दोस्तों मेरा नाम विकास है और राजस्थान का रहने वाला हूं। यह कहानी उस समय की है जब मैं 12वीं कक्षा में पढ़ाई करता था। पढ़ाई के समय मुझे एक लड़की से प्यार हो गया था जिसका नाम वंदना (बदला हुआ नाम) था। जब मैंने उस लड़की को पहली बार देखा तो देखता ही रह गया कसम से एकदम दूध जैसे गोरे रंग के लड़की मैंने आज तक नहीं देखी थी।

Best School Love Story In Hindi | दिल को छूने वाली स्कूल लव स्टोरी 2022 –

वह लड़की स्कूल ड्रेस में भी बहुत सुंदर दिख रही थी। पहली नजर में ही मुझे उस लड़की से प्यार हो गया था। वह लड़की अपनी सहेलियों के साथ पैदल स्कूल आती थी। मेरा घर रास्ते में ही पड़ता था इसलिए स्कूल जाते समय मुझे उस लड़की को देखने का मौका मिलता था। उसकी एक झलक देखने के लिए मैं अपने घर की दीवार पर बैठा रहता था और उसके स्कूल पहुंचने के बाद मैं भी स्कूल पहुंच जाता था।

मैं हकीकत में उस लड़की से प्यार करने लग गया था लेकिन मुझे उसके बारे में कोई पता नहीं था कि वह भी मुझसे प्यार करती है या नहीं। लेकिन मैं जब भी मेरे पास से निकलती थी तो तिरछी नजरों से मुझे देख कर मुस्कुरा जाती थी। धीरे धीरे कई दिन गुजर गए लेकिन मैं उसे प्रपोज नहीं कर पाया था। गुरुवार का दिन था मैं अपने गेट के बाहर खड़ा हुआ था तभी वंदना अपनी सहेली के साथ स्कूल जा रही थी। उस दिन उसे देख कर मेरा दिल पूरी तरह से उसका दीवाना हो गया। School Love Story In Hindi

इस दिन वंदना ने काले रंग का सलवार और पीले रंग का सूट पहना हुआ था जो उसके चेहरे को और भी खूबसूरत बना रहे थे। आज तो मैंने सोच लिया था कि जैसे ही मुझे मौका मिलेगा मैं वंदना को प्रपोज कर दूंगा। मैं वंदना के पास वाली टेबल पर बैठा हुआ था तभी वह मुझे देख कर मुस्कुरा रही थी। मुझे बिल्कुल भी समझ नहीं आ रहा था की वह मुझे लाइन दे रही है या वैसे ही मुस्कुरा रही है। लंच का समय था क्लास के अंदर कोई भी नहीं था।

मैंने क्लास के दरवाजे पर आकर इधर-उधर देखा तो कोई नहीं दिखा। मैंने सोचा आज का यह सबसे अच्छा मौका है। मैं उसके पास वाले टेबल पर जाकर बैठ गया और सीधे उस से ही पूछ लिया – क्या तुम मुझसे प्यार करती हो? इस बात को सुनकर वंदना ने अपना सिर झुका लिया और चुपचाप बैठी रही। तभी मैंने कहा – आई लव यू वंदना मैं तुम्हें बहुत प्यार करता हूं।
वह चुपचाप वहां से उठकर बाहर चली गई और पीछे मुड़कर देखा तो ऐसा लगा मानो मुझसे गुस्सा हो कर गई हो। मैं तो पूरी तरह से डर गया था कि आज वंदना प्रिंसिपल मैडम को जरूर सुनाएगी। School Love Story In Hindi

लगभग दो दिन गुजर गए लेकिन वंदना ने कोई जवाब नहीं दिया। मैंने फिर से हिम्मत जुटाकर वंदना से कहा – कम से कम जवाब तो दे सकते हो? अगर तुम मुझसे प्यार करती हो तो आज बता देना वरना आज के बाद मैं तुम्हारे और देखूंगा भी नहीं। इतना कहने के बाद मैं तुरंत वहां से चला गया। थोड़ी ही देर बाद क्लास के अंदर वंदना ने मुझसे मेरा होमवर्क रजिस्टर मांगा था। मैंने बिना कुछ सोचे समझे रजिस्टर वंदना तक पहुंचा दिया। उस रजिस्टर को वंदना को लिए हुए चार-पांच दिन हो चुके थे।

एक दिन मैं अपने घर से वंदना के साथ ही स्कूल आ रहा था। उस दिन वह अकेली ही थी क्योंकि उसकी सहेलियां थोड़ा जल्दी स्कूल पहुंच चुकी थी। सड़क बिल्कुल सुनसान थी तभी मैंने वंदना से कहा – अगर तुम मुझसे प्यार करती हो तो मेरे उस रजिस्टर में लिख कर जवाब दे देना। तभी वंदना ने कहा – तुम क्या चाहते हो कि मैं स्कूल के सभी लड़कों के सामने तुम्हें प्रपोज करूं ताकि हमारे घर वालों को इस बात का पता चल जाए। आज लंच के समय रजिस्टर को तुम्हारे बैग के अंदर रख दूंगी और उसी के अंदर मेरा जवाब लिखा हुआ होगा। School Love Story In Hindi

मैं इस बात को सुनकर बहुत खुश हो रहा था कि आज हमारे प्यार की शुरुआत होने वाली है। लंच के समय सभी लोग बाहर थे, क्लास के अंदर मैं और वंदना ही बैठे हुए थे। तभी वंदना ने मुझे रजिस्टर दिया और वहां से चली गई। मैंने बिना देर किए रजिस्टर खोला और देखा तो चकित रह गया क्योंकि उस रजिस्टर के अंदर वंदना ने अपने प्यार के बारे में बहुत कुछ लिख रखा था। वंदना के द्वारा लिखी हुई सारी बातों को पढ़कर मैं खुशी से उछल रहा था। School Love Story In Hindi

कुछ दिनों तक हमारे बीच सिर्फ इशारों से ही बातचीत होती रही। 26 जनवरी का दिन था उस दिन सभी स्टूडेंट ग्राउंड पर बैठे हुए थे। लड़कियां एक तरफ बैठी हुई थी जबकि लड़के दूसरी तरफ बैठे हुए थे। मैं ऑफिस के बगल वाली क्लास के अंदर बैठा हुआ था तभी कुछ लड़कियों के साथ वंदना भी वहां पर आ जाती है। क्योंकि उन बच्चियों को तैयार करने का वंदना का था, जिन्होंने सांस्कृतिक प्रोग्राम में भाग लिया था।

वंदना बार-बार मुझे देखकर मुस्कुरा रही थी। तभी मैं उसके पास चला जाता हूं और सबसे नजर चुरा कर उसके गाल पर एक किस कर देता हूं। उस दिन वंदना के बिल्कुल नरम हल्के गुलाबी होंठ मुझे उसका दीवाना बना रहे थे। मैंने वंदना से कहा – मैं तुम्हारे होठों पर एक किस करना चाहता हूं? School Love Story In Hindi

वंदना – पागल हो गए हो क्या? तुम्हें शर्म नहीं आती क्लास के अंदर कितनी सारी लड़कियां हैं?

मैं – अरे यार इसमें शर्म की क्या बात है! बस एक किस ही तो मांगा है।

वंदना – नहीं यार! बाद में तुम चाहे जितने किस कर लेना।

मैं – लेकिन आज ही करूंगा! वरना मुझे आज के बाद में बात मत करना। School Love Story In Hindi

थोड़ी ही देर बाद वंदना उन छोटी बच्चियों को तैयार करके स्टेज पर भेज देती हैं। वंदना भी उनके साथ स्टेज पर ही खड़ी हुई थी। मैं उसे क्लास के अंदर बुलाने की कोशिश कर रहा था लेकिन काफी शोर की वजह से वह मेरी आवाज सुन नहीं पा रही थी। कुछ देर बाद वह ऑफिस के अंदर चली जाती है। मैं भी उसको ऑफिस के अंदर जाते हुए देख कर पीछे-पीछे चला जाता हूं। और कहता हूं – तुम्हें सुनाई नहीं देता है? मैं कब से तुम्हें आवाज लगा रहा था।

वंदना – तुम 5 मिनट मेरा इंतजार करो। मैं उसी क्लास के अंदर आ रही हूँ। School Love Story In Hindi

थोड़ी देर बाद वंदना चारों तरफ देखकर क्लास के अंदर आ जाती है। वंदना मेरे सामने ही खड़ी हुई थी और मैं सिर्फ उसके गोरे चेहरे और नाजुक होठों को ही देख रहा था। सामने बहुत खूबसूरत लड़की को देखकर मुझसे रहा नहीं गया और मैंने उसके होठों पर किस कर दिया। किस करने के बाद वह मुझे धक्का देकर बाहर चली गई। मैं गेट के बाहर सिर्फ उसे ही देख रहा था और वह कभी कभी पीछे की और देख कर मंद-मंद मुस्कुरा रही थी।

मेरे और वंदना के बीच काफी गहरा रिश्ता जुड़ चुका था। वह मेरे बिना एक पल भी नहीं रह पाती थी। इसलिए मैं स्कूल के अलावा उससे मिलने के लिए कभी-कभी उसके घर भी पहुंच जाता था। लेकिन मेरे पास वंदना से मिलने का सबसे अच्छा मौका स्कूल के समय का था क्योंकि स्कूल में लंच के समय मैं वंदना के साथ काफी रोमांच किया करता था। कुछ ही दिनों बाद हमारी 12वीं की परीक्षा नजदीक आ गई फिर हम दोनों ने पढ़ाई की ओर ध्यान दिया। School Love Story In Hindi

आज मैं और वंदना एक साथ बीएससी की तैयारी कर रहे हैं। वंदना जब भी कहीं परीक्षा देने जाती है तो वह हमेशा मुझे ही साथ लेकर जाती है। वह मुझे पहले ही कॉल करके बता देती है इसलिए मैं उसे आगे ही उसकी बताई हुई जगह पर तैयार खड़ा हुआ मिलता हूं। वंदना मेरे जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और उसके बिना जीवन गुजारना मेरे लिए असंभव है। हमारे प्यार को लगभग 3 साल हो चुका है लेकिन आज तक वंदना और मेरे बीच किसी भी प्रकार की कोई नाराजगी पैदा नहीं हुई। इसी बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि हमारा प्यार कितना पवित्र और गहरा है। School Love Story In Hindi

दोस्तों अगर आपको मेरी यह सच्ची लव स्टोरी पसंद आई हो, तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें और हमें कमेंट करके जरूर बताएं। अगर लिखने में किसी प्रकार की कोई गलती हुई हो तो मैं उसके लिए आपका क्षमा प्रार्थी हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Popular Content

- Advertisement -

Latest article

More article

- Advertisement -