Can Home Remedies Cure Constipation? Get Answers From An Expert


नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन के अनुसार, चिड़चिड़ा आंत्र सिंड्रोम (IBS) एक पुरानी जठरांत्र संबंधी विकार है जो दुनिया भर में 9% -23% आबादी को प्रभावित करता है। ऐंठन, सूजन, पेट दर्द, कब्ज और गैस IBS के कुछ लक्षण हैं।

हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, आयुर्वेद विशेषज्ञ, डॉ दीक्सा भावसार सावलिया ने कहा कि कब्ज के कारणों में दिमाग से खाना न खाना, सूखा, ठंडा, मसालेदार, तला हुआ और फास्ट फूड का अधिक सेवन, पर्याप्त पानी न पीना, कम फाइबर हो सकता है। भोजन, खराब चयापचय, अशांत नींद पैटर्न, देर से रात का खाना एक गतिहीन जीवन शैली के लिए। इसके अलावा, स्वास्थ्य विशेषज्ञ ने चेतावनी दी कि सिर्फ जुलाब का सेवन इसका स्थायी समाधान नहीं है।

आइए विशेषज्ञ द्वारा सुझाए गए कुछ घरेलू उपचारों को देखें जो अनियमित मल त्याग या कब्ज को हल करने में मदद करेंगे:

रात भर भीगी हुई किशमिश: जब किशमिश को पानी में भिगोया जाता है, तो वे प्राकृतिक रेचक के रूप में काम करती हैं और फाइबर से भरपूर होती हैं। भीगी हुई किशमिश का सेवन स्वस्थ पाचन तंत्र को बनाए रखने में मदद करता है और कब्ज को रोकता है।

गुनगुना पानी पिएं: नियमित रूप से गर्म पानी पीने से मल त्याग में मदद मिल सकती है। पानी से मल नरम हो जाता है, जिससे आसानी से चलने में सुविधा होती है।

फल, मेवे, अनाज और सब्जियां: फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करना महत्वपूर्ण है क्योंकि वे आपके मल को बल्क देते हैं, जो आपकी आंतों को हिलने के लिए प्रोत्साहित करता है। स्ट्रॉबेरी, रसभरी, सेब, पिस्ता, बादाम, सूरजमुखी के बीज, ब्रोकली, लीमा बीन्स, गाजर, सात-अनाज, फटा गेहूं और पम्परनिकल ब्रेड ऐसे खाद्य पदार्थों के उदाहरण हैं जिनमें फाइबर की मात्रा अधिक होती है।

गाय का घी: घी के चिकनाई प्रभाव से शरीर को लाभ होता है, जिससे आंतें भी साफ होती हैं। यह मल त्याग की सुविधा देता है और चयापचय में सुधार करता है। विशेषज्ञ के अनुसार, यह शरीर के स्वस्थ वसा के स्तर को बनाए रखने में सहायता करता है, जो विटामिन ए, डी, ई और के के अवशोषण के लिए आवश्यक हैं।

मलासन, अर्ध-मत्स्येंद्रासन, हलासन, पवनमुक्तासन, और बधा कोणासन जैसे योग मुद्राएं, जो तनाव को नियंत्रित करती हैं और पाचन तंत्र की मालिश करती हैं, आंत्र अनियमितताओं को कम करने में भी मदद कर सकती हैं।

(अस्वीकरण: इस लेख की सामग्री कई वेबसाइटों/मीडिया रिपोर्टों की जानकारी पर आधारित है। News18 तथ्यों की 100% सटीकता की गारंटी नहीं देता है। कृपया किसी भी प्रश्न या सर्वोत्तम उपचार के लिए एक चिकित्सा विशेषज्ञ से संपर्क करें।)

सभी पढ़ें ताज़ा खबर तथा आज की ताजा खबर यहां

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles