जिंदगी गुजर गई यादों के सहारे | Sad True Heart Touching Love Story in Hindi - दोस्तों आज मैं आपको मेरे दोस्त अनिरुद्ध की एक सच्ची प्रेम कहानी के बारे में बतानी चाहता हूं। उम्मीद करता हूं कि इस लवस्टोरी को पढ़कर आपके आंखों से आंसू निकल आएंगे। मेरा दोस्त अनिरुद्ध हमारे कॉलेज की चित्रा नाम की लड़की से बहुत प्यार करता था। चित्रा भी अनिरुद्ध को अपनी जान से अधिक प्यार करती थी। 

जिंदगी गुजर गई यादों के सहारे - Sad True Heart Touching Love Story in Hindi -


कुछ ही दिनों बाद दोनों एक दूसरे से शादी करने वाले थे। लेकिन एक दिन ऐसा हुआ कि एक छोटी सी बात को लेकर दोनों के बीच झगड़ा हो गया। धीरे-धीरे उनका झगड़ा इतना बढ़ गया कि चित्रा ने अनिरुद्ध से ब्रेकअप करने का फैसला कर लिया। अनिरुद्ध किसी भी कीमत पर चित्र को खोना नहीं चाहता था क्योंकि वह उससे बहुत प्यार करता था। चित्रा ने अनिरुद्ध को कॉल करना और मिलना-जुलना बंद कर दिया। 

चित्रा की इस हरकत की वजह से वह बहुत परेशान रहने लगा। कई महीने गुजर गए लेकिन दोनों एक दूसरे से बात नहीं करना चाहते थे। एक दिन मैंने अनिरुद्ध को किसी भी तरह से समझा कर चित्रा से मिलने के लिए भेजा। मेरी बात मानकर अनिरुद्ध उससे मिलने चला गया था। मेरे कहे अनुसार अनिरुद्ध ने जाते ही चित्रा से माफी मांगी। कुछ ही देर बाद मैं भी वहां पर पहुंच जाता हूं और दोनों के बीच झगड़ा शांत करा देता हूं। Sad True Heart Touching Love Story in Hindi

अब फिर से दोनों के बीच वहीं प्यार पैदा हो गया था। उस दिन दोनों ने एक साथ बैठकर काफी देर तक बातें की थी। उनको देखकर मुझे लग रहा था कि शायद दोनों ने ही एक दूसरे को बहुत मिस किया है। चित्रा अपना सिर अनिरुद्ध की गोद में रख कर लेट रही थी और वह अपने हाथों से चित्रा के बालों को सहला रहा था। उस पल को दोनों ऐसा महसूस कर रहे थे जैसे बरसो बाद एक दूसरे से मिले हो। 

कुछ ही दिनों बाद दोनों एक दूसरे से शादी कर लेते हैं। दोनों हंसी-खुशी अपना जीवन गुजार रहे थे। उनकी शादी को लगभग 6 माह बीत चुके थे। मैं जब भी उनके घर जाता तो चित्रा उस दिन खाने के लिए कुछ स्पेशल ही बनाती थी। लेकिन किसी को भी पता नहीं था कि उन दोनों की किस्मत में क्या लिखा है। Sad True Heart Touching Love Story in Hindi

एक दिन अचानक अनिरुद्ध और चित्रा के बीच पैसों की बात को लेकर झगड़ा हो जाता है। उस दिन चित्रा ने अनिरुद्ध को बहुत बुरा भला कह दिया था। चित्रा ने कहा - तुम्हारी वजह से मैं बहुत परेशान हो चुकी हूं। तुम्हारे साथ रहकर मेरी जिंदगी बर्बाद हो गई है। प्लीज तुम मुझे अकेला छोड़कर चले जाओ, मैं तुमसे तलाक चाहती हूं।

चित्रा के मुंह से इन शब्दों को सुनने के बाद अनिरुद्ध को धक्का सा लगा और उसकी आंखों में आंसू आ गए। अनिरुद्ध ने चित्रा को बहुत देर तक समझाया लेकिन वह एक ही रट लगा कर बैठ गई कि मुझे सिर्फ तुम से तलाक चाहिए। उसके बाद अनिरुद्ध ने सोचा कि चित्रा उसे पसंद नहीं करती है। इसलिए वह उसे छोड़कर कहीं दूर चला जाएगा और वापस कभी भी मुड़ कर नहीं आएगा। 

बिना तलाक दिए अनिरुद्ध अपना सामान पैक कर के वहां से चला जाता है। लगभग 6 माह गुजर गए थे अनिरुद्ध का कहीं भी पता नहीं चल रहा था। एक दिन में जैसे ही उसके घर पहुंचता हूं तो चित्रा मुझे सारी बातें बता देती है। चित्रा ने मुझसे कहा - मैंने कभी सोचा नहीं था कि अनिरुद्ध मुझे छोड़कर चला जाएगा। इतनी सी बात पर नाराज होकर भला कोई छोड़कर जाता है। इतना कहने के बाद वह रोने लग जाती है। Sad True Heart Touching Love Story in Hindi

मैंने कहा - भाभी जी आप चिंता मत कीजिए। अनिरुद्ध जहां कहीं भी होगा मैं उसे ढूंढ कर लाऊंगा। आप मुझ पर विश्वास कीजिए। तभी चित्रा ने रोते हुए कहा - उसे घर छोड़कर गए हुए लगभग 6 महीने हो चुके हैं लेकिन एक दिन भी मुझे कॉल करके मेरा हाल नहीं पूछा। उसे पता नहीं कि मैं उसे कितना प्यार करती हूं। उसके बाद वह रोते हुए कमरे के अंदर चली जाती है। 

मैं अपनी जेब से मोबाइल निकाल कर अपने दोस्तों से अनिरुद्ध के बारे में पूछताछ कर रहा था। तभी अचानक चित्रा के मोबाइल पर एक कॉल आया जिसने मुझे और चित्रा अंदर से झकझोर कर रख दिया। वह कॉल एक पुलिस स्टेशन से था और उन्होंने बताया कि उनके पति अनिरुद्ध का एक रोड एक्सीडेंट हो गया है जिसमें उनकी मौत हो गई है। यह सुनकर चित्र ऊपर से ही गिर जाती है और बेहोश हो जाती हैं। 

इस बात को सुनकर मैं भी एकदम टूट चुका था क्योंकि मैंने भी मेरा सबसे अच्छा दोस्त खो दिया था। मैं किसी भी तरह से खुद को संभाल कर चित्रा को अस्पताल में भर्ती करा देता हूं। लगभग दो-तीन घंटे बाद चित्रा को होश आता है तो वह बार-बार अनिरुद्ध के बारे में ही पूछ रही थी। मैं बार-बार चित्र को समझाने की कोशिश करता लेकिन वह मेरी बात मानने को तैयार नहीं थी। अनिरुद्ध के जाने के बाद चित्रा पूरी तरह से अकेली हो गई थी। Sad True Heart Touching Love Story in Hindi

चित्रा के दिल के दर्द को मैं अच्छी तरह से समझ रहा था लेकिन अनिरुद्ध दुनिया छोड़कर जा चुका था। एक अच्छा दोस्त होने के नाते मैंने चित्रा को कठिन परिस्थिति में खुद को संभालने के लिए समझाया। अनिरुद्ध के जाने के बाद चित्रा ने उसे बहुत याद किया लेकिन चित्रा के लिए वह सिर्फ यादें बनकर रह गया। आज भी चित्रा ने दोबारा शादी नहीं की वह केवल अनिरुद्ध की यादों के सहारे ही जिंदा रहना चाहती है। 

Also Read - रियल लाइफ ट्रू लव स्टोरी | True Romantic Love Story In Hindi 

Sad Love Story In Hindi | Really Heart Touching Love Story