रोमांटिक कपल लव स्टोरी | Best Romantic Short Love Story In Hindi - दोस्तों वर्तमान समय में सोशल मीडिया फेसबुक, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम और टि्वटर जैसे प्लेटफार्म पर अपने दोस्तों के साथ जुड़े रहने का सबसे अच्छा स्थान है। मैंने कई बार न्यूज़पेपर में पढ़ा है कि सोशल मीडिया के जरिए कई लोगों ने नए रिश्ते भी बनाए हैं। सोशल मीडिया एक ऐसी जगह जिस पर आप अपने लिए नए-नए दोस्त बना सकते हैं। मेरी प्रेम कहानी की भी शुरुआत सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक से ही हुई थी।

रोमांटिक कपल लव स्टोरी | Best Romantic Short Love Story In Hindi - 

यह लव स्टोरी की कहानी उस समय की है जब मैं बीएससी की पढ़ाई कर रहा था। बीएससी की पढ़ाई करने के लिए मुझे गांव छोड़कर शहर जाना पड़ा था। अपने परिवार वालों से बात करने के लिए मेरे पिताजी ने मुझे नया मोबाइल दिलाया था। वैसे तो मैं अपना अधिकतर समय पढ़ाई करने में ही बिताता था लेकिन कभी-कभी इंटरव्यू की जानकारी लेने के लिए यूट्यूब पर भी वीडियो देख लेता था। 

फेसबुक पर मेरा एक अकाउंट था। जिसमें मेरे गांव के लोगों के साथ अन्य नए लोग भी मेरे दोस्त बन चुके थे। फेसबुक पर मेरा एक ग्रुप था जिसमें मेरे फ्रेंड जॉब से संबंधित पोस्ट शेयर किया करते थे। धीरे-धीरे ग्रुप में कई सारे लोग जुड़ गए और उसी दौरान मेरे ग्रुप में एक लड़की भी जुड़ गई थी जो महाराष्ट्र की एक कंपनी में मैनेजर के पद पर थी। उस लड़की का नाम किरण था। वह लड़की हमेशा जॉब से संबंधित बातें ग्रुप में शेयर करती रहती थी। Romantic short love story in hindi

एक दिन मैंने उस लड़की को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज दिया और उसने कुछ ही देर बाद मेरी फ्रेंड रिक्वेस्ट को स्वीकार कर लिया। उसके बाद किरण से मेरी फेसबुक मैसेंजर पर बातें होने लगी। वह मुझे हमेशा कहती थी की पढ़ाई पूरी होने के बाद महाराष्ट्र जाना। मैं तुम्हें अपने कंपनी में जॉब दिलवा दूंगी। मैं ग्रामीण क्षेत्र से होने की वजह से मेरी पारिवारिक स्थिति बहुत कमजोर थी इसलिए मुझे नौकरी की सख्त जरूरत थी। 

मैं उसकी बातों को सुनकर मन लगाकर पढ़ाई करने लगा परंतु शाम को 9:00 बजे फेसबुक पर उससे बातें करना बिल्कुल भी नहीं भूलता था। मैं किसी भी तरह समय निकालकर रोजाना किरण से बातें करता था। रोजाना बात करने की वजह से मुझे ऐसा लगता था कि मानो मैं किरण को पहले से ही जानता हूं। दो-तीन महीने लगातार बात करने की वजह से मुझे पता ही नहीं चला कि मैं कब उसे प्यार करने लग गया। 

बातों के दौरान एक दिन मैंने किरण को आई लव यू लिख दिया लेकिन उसने कोई भी जवाब नहीं दिया। मैं घबरा गया था कि शायद वह मेरे आई लव यू लिखने की वजह से नाराज हो जाएगी। कुछ देर बाद वह ऑफलाइन हो जाती हैं। काफी देर उसके ऑनलाइन आने का इंतजार करता रहा लेकिन बाद में नींद आने की वजह से मैं सो गया। अगले दिन जैसे ही मैंने सुबह उठ कर मोबाइल का डाटा ऑन किया था पता चला कि किरण ने रिप्लाई में लव यू टू कहा। Romantic short love story in hindi

उसके बाद मैंने सोच लिया था कि पढ़ाई पूरी होने के बाद महाराष्ट्र जाकर किरण के साथ अच्छी जॉब करूंगा और उसे ही अपना जीवन साथी बना लूंगा। धीरे-धीरे हम दोनों के बीच रोमांटिक बातें होने लगी। जब भी मैं फ्री रहता तो उससे चैटिंग के जरिए मजाक करता रहता था। कभी-कभी उसे हंसाने के लिए मैं अच्छे-अच्छे जोक शेयर करता रहता था। किरण हमेशा मुझे महाराष्ट्र आने के लिए कहते रहती थी।

मैं और किरण शाम के समय लगभग तीन-चार घंटे तक लगातार बातें किया करते थे। एक दिन मैंने किरण से कहा - मैडम, मैं सच कह रहा हूं मुझे जॉब की सख्त जरूरत है। आप मेरी इस बात को मजाक मत समझ लेना। रिप्लाई में किरण ने जवाब दिया - मैं सच कह रही हूं पढ़ाई पूरी होने के बाद यहां पर आ जाना। मैं तुम्हें एक अच्छी जॉब दिलवा दूंगी। कुछ ही दिनों बाद मेरे एग्जाम नजदीक आ जाते हैं और मैं पढ़ाई पर अधिक ध्यान देने लग जाता हूं। 

जब तक मेरी परीक्षाएं खत्म नहीं हुई तब तक मैं किरण से बहुत कम बातें करने लग गया था। किरण भी मुझे पढ़ाई पर ध्यान देने के लिए कहती रहती थी। जैसे ही मेरे परीक्षाएं खत्म हुई मैंने फिर से बात करना शुरू कर दिया। एक दिन मैंने उसे बताया कि मेरी परीक्षाएं समाप्त हो चुकी है और मेरा पेपर भी अच्छा गया है। उसके बाद उसने मुझे महाराष्ट्र आने के लिए कहा। Romantic short love story in hindi

शाम के समय चैट करते समय मैंने उससे उसका मोबाइल नंबर मांग लिया ताकि मुझे पहुंचने में आसानी हो सके। अगले दिन मैंने रेलवे स्टेशन पर जाकर महाराष्ट्र तक का टिकट करवा लिया। इस बारे में मैंने अपने घर वालों को भी बता दिया था। दो-तीन दिन बाद में महाराष्ट्र पहुंच जाता हूं। मैंने पढ़ाई में बीएससी के अलावा भी कई सारी डिग्रियां हासिल कर रखी थी इसलिए मुझे जॉब लेने में कोई परेशानी नहीं थी।

किरण के बताए हुए स्टेशन पर उतरने के बाद मैं उसे कॉल कॉल करके उसके फ्लैट का नंबर पूछता हूं। उसके बाद मैं अपनी कॉलोनी और फ्लैट का नंबर मुझे व्हाट्सएप पर भेज देती है। मैं रेलवे स्टेशन से एक ऑटो में बैठ कर किरण के फ्लैट के सामने पहुंच जाता हूं। उसके बाद मैं अपनी जेब से मोबाइल निकाल कर उसे कॉल करता हूं और नीचे गेट पर आने के लिए कहता हूं। थोड़ी ही देर में किरण नीचे आ जाती है। मेरे सामने आने के बाद मैं उसे तुरंत पहचान चुका था क्योंकि उसने फेसबुक पर आपने असली फोटो लगा रखी थी। 

उसके बाद हम दोनों एक चाय की दुकान पर बैठकर बातचीत करने लगते हैं। काफी देर बातचीत करने के बाद में वहां से होटल जाने के लिए कहता हूं। तभी वह मुझसे कहती हैं - होटल में जाकर क्या करोगे? मेरे ही फ्लैट में रह लो। मैंने कहा - आपका पूरा परिवार रहता होगा और मैं नहीं चाहता कि मेरी वजह से आपको और आपके परिवार को परेशानी हो। उसके बाद किरण ने जवाब दिया - पागल, मैं फ्लैट में अकेली रहती हूं। मैंने कहा - कोई देख लेगा तो क्या सोचेगा की एक लड़का और लड़की एक ही फ्लैट में रह रहे हैं। Romantic short love story in hindi

किरण जवाब देती है - यह तेरा गांव नहीं है शहर है। यहां पर कोई कैसे भी रहे किसी को कोई फर्क नहीं पड़ता है। इतना कहने के बाद वह मेरा सामान उठाकर अंदर ले जाती है और मैं भी उसके पीछे-पीछे चला जाता हूं। पहली बार मिलने की वजह से हम दोनों एक-दूसरे को देखकर मुस्कुराने लगते थे। उसके बाद वह खाना बनाने लग जाती है और मैं भी खाना बनाने में उसकी मदद करने लग जाता हूं। 

कुछ देर बाद हम दोनों बातचीत करते हुए खाना खाने लगते हैं। किरण से बातचीत के दौरान मुझे ऐसा लग रहा था कि मैं किरण के बिना अधूरा हूं। बातों ही बातों में मैंने किरण से कहा - सच में आप बहुत सुंदर हो। मैंने कई सारी लड़कियों के साथ बातचीत की है लेकिन आप जैसी समझदार लड़की पहली बार देखी है। किरण ने जवाब दिया - सच बताओ मुझसे पहले तुम्हारी कितनी गर्लफ्रेंड थी। मैंने कहा - मेरा पहला और आखिरी प्यार सिर्फ तुम हो। तुमसे पहले मेरे कोई भी गर्लफ्रेंड नहीं थी। 

उसके बाद हम दोनों एक दूसरे को गुड नाईट बोल कर अपने-अपने कमरे में सोने चले जाते हैं। अगले दिन मैं किरण के साथ उसकी कंपनी में चला जाता हूं। कंपनी में जाने के बाद किरण मेरी मुलाकात अपने दोस्तों से करवाती हैं। कुछ ही देर बाद कंपनी के चेयरमैन भी वहां पर आ जाते हैं। किरण सीधे चेयरमैन के पास जाकर मेरी सिफारिश करती है और मुझे जॉब दिला देती है। Romantic short love story in hindi

अब मैं और किरण एक साथ कंपनी जाते थे। कंपनी में काम करते हुए मुझे लगभग एक माह चुका था लेकिन मुझे एक बात बिल्कुल भी समझ नहीं आ रही थी कि आखिरकार किरण के एक बार कहने पर चेयरमैन ने मुझे बिना कोई सवाल के जवाब दे दी। किरण से प्यार करने के साथ-साथ मैं उसका एक अच्छा दोस्त भी था। मैं अपनी पर्सनल जानकारी भी मेरे साथ शेयर करती रहती थी। धीरे-धीरे कंपनी में भी मेरे कई दोस्त बन गए थे। 

दोपहर के समय मैं अपने ऑफिस में बैठकर खाना खा रहा था। तभी किरण वहां पर आ जाती है और मेरे साथ खाना खाने लगती है। उसी समय एक कर्मचारी किरण के पास आकर कहता है - मैडम, इस फाइल को पढ़कर इन पर आपके हस्ताक्षर कर देना। खाना खाते समय मैंने कर्मचारी की बात पर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दिया था। लेकिन शाम को जब मैं अपने कमरे में सो रहा था, तब मैंने कर्मचारी की बात पर ध्यान गौर किया। सोते समय में सिर्फ एक बार सोच रहा था कि आखिरकार किरण से बड़े अधिकारी ने उसे मैडम क्यों कहा है और एक मैनेजर के हस्ताक्षर के क्या जरूरत पड़ गई।

अगले दिन में कंपनी जाने के बाद वहां पर काम करने वाले लोगों से किरण के बारे में पूछताछ करता हूं तो पता चलता है कि वह इस कंपनी की मालिक है। जिस दिन मेरे सामने उसने जिस चेयरमैन से बात की थी वह कोई और नहीं उनके पिता है। उस आदमी की बात को सुनकर मुझे बहुत गुस्सा आया और मैं किरण से नाराज होकर वहां से चला गया। मुझे बिल्कुल भी समझ नहीं आ रहा था कि आखिरकार कंपनी के मालिक होने के बावजूद भी उसने मुझसे झूठ क्यों बोला था। Romantic short love story in hindi

दो-तीन महीने की सैलरी मिलने के कारण मेरे पास पैसे थे इसलिए मैं शाम को एक होटल में कमरा लेकर रुक गया। इधर किरण मेरा फ्लैट पर इंतजार कर रही थी। काफी देर हो जाने के बाद भी मेरे नहीं पहुंचने के कारण वह मुझे कॉल करती है। मैं किरण से बात नहीं करना चाहता था इसलिए उसके कॉल को उठा नहीं रहा था। बहुत देर तक कॉल करने के बाद वह मुझे व्हाट्सएप पर मैसेज भेजते हैं लेकिन मैं उनका भी कोई रिप्लाई नहीं देता हूं। 

थोड़ी देर बाद मुझे एक अनजान नंबर से कॉल आता है और मैं उसे उठा लेता हूं। कॉल उठाते ही मुझे लड़की की आवाज सुनाई देती है। मैं समझ गया था यह कॉल किरण ने ही किया है। वह मुझसे कहती है - वेदांत! तुम मेरा कॉल क्यों नहीं उठा रहे हो। मैं तुम्हारा फ्लैट पर इंतजार कर रही हूं और तुम अभी तक आए ही नहीं हो। मैं कहता हूं - तुमने मुझसे झूठ क्यों बोला था कि तुम एक मैनेजर हो। किरण कहती है - सच ही तो कहा है मैंने मैं कंपनी में मैनेजर ही हूं। 

उसके बाद मैंने कहा - मुझे पागल मत बनाओ। मैं तुम्हारे बारे में सब कुछ जान चुका हूं। मुझे नहीं पता था कि तुम मुझे झूठ बोल कर ही यहां बुलाओगी। मेरी इस बात को सुनकर किरण बिल्कुल चुप हो जाते हैं और कोई भी जवाब नहीं देती है। काफी देर शांत रहने के बाद वह मुझसे कहती हैं - मैं नहीं चाहती थी कि जिस लड़के से मैं प्यार करूं वह मेरी जायदाद से प्यार करे। तुम्हारे ऊपर मुझे पूरा यकीन था इसलिए मैं तुम्हें सब कुछ बताने वाले ही थी। मैंने कहा - क्या तुम्हें मेरे प्यार पर इतना भी यकीन नहीं था। 

किरण ने जवाब दिया - वेदांत! प्लीज तुम मेरी बात समझने की कोशिश करो। मैं भी तुमसे बहुत प्यार करती हूं और मैं तुम्हें खोना नहीं चाहती हूं। प्लीज तुम जहां कहीं भी हो वापस फ्लैट पर आ जाओ। इतना कहने के बाद वह रोने लग जाती है। मुझसे उसका रोना नहीं देखा गया और मैं वहां से ऑटो में बैठ कर उसके पास पहुंच जाता हूं। फ्लैट पर जाने के बाद जैसे ही मैंने दरवाजे की बेल बजाई तो वह झट से दरवाजा खुलती है। मैं समझ गया था कि किरण गेट पर खड़ी होकर मेरा इंतजार कर रही थी। Romantic short love story in hindi

अंदर आने के बाद मैं दरवाजा बंद कर देती है और मुझे अपने गले से लगा लेती है। वह मुझसे कहने लगती है - प्लीज वेदांत! मुझे माफ कर देना, आज के बाद मैं तुम्हें कभी झूठ नहीं बोलूंगी। इतना कहकर वह मेरे कंधे पर अपना सिर रखकर रोने लग जाती है। उसको रोते हुए देख मेरी भी आंखों से आंसू निकलने लग जाते हैं। सब कुछ ठीक हो जाने के बाद हम दोनों एक साथ कंपनी जाते थे। आज मैं किरण के साथ बहुत खुश हूं। 

दोस्तों मैंने कभी जीवन में नहीं सोचा था कि फेसबुक के जरिए मिलने वाली लड़की से प्यार करूंगा। सच कहूं तो किरण को एक ऐसे लड़के की तलाश थी जो उसे अपनी जान से ज्यादा प्यार करें। यह बात तो बिल्कुल सत्य है कि किरण जैसी समझदार और सुशील लड़की हर किसी के नसीब में नहीं होती है। मैं अपने आप को बहुत खुशनसीब समझता हूं कि किरण ने कंपनी की मालिक होने के बावजूद मुझे अपना जीवन साथी चुना। 

Also Read - एक बेवफा लड़की | Ek Bewafa Ladaki | Very Sad Love Story In Hindi 

Love Story in Hindi – स्कूल टाइम की प्रेम कहानी 2021