Girl Bewafa Love Story In Hindi | प्यार की दर्द भरी दास्तां - हेलो फ्रेंड्स, आज मैं एक ऐसी प्रेम कहानी के बारे में बताने जा रहा हूं जो बहुत दर्द भरी है। यह प्यार की दर्द भरी दास्तां आप सबको बहुत पसंद आएगी। कई लोग कहते हैं कि प्यार बिल्कुल अंधा होता है लेकिन मैंने कभी नहीं सोचा था कि प्यार बेवफा भी होता है। इस प्यार भरी दास्तां को पढ़कर आपकी आंखों में आंसू आ जाएंगे तो चलिए पढ़ना शुरू करते हैं।

Girl Bewafa Love Story In Hindi | प्यार की दर्द भरी दास्तां - 

यह कहानी उस समय की है जब मैं अपने दोस्तों के साथ घूमने के लिए गोवा गया हुआ था। गोवा में घूमते हुए मुझे 2 दिन बीत चुके थे। एक दिन गोवा के समुद्र के किनारे पर मेरी मुलाकात मेरे ही शहर की एक लड़की कामिनी से होती है। वह लड़की भी अपने दोस्तों के साथ गोवा घूमने गई हुई थी। मैं अपने दोस्तों के साथ बैठकर मस्ती भरी बातें कर रहा था। तभी मुझे एक गोरी चिट्टी जवान लड़की दिखाई देती है। Girl Bewafa Love Story In Hindi

वह लड़की दिखने में इतनी खूबसूरत थी कि मेरे सभी दोस्त उसे अपनी गर्लफ्रेंड बनाने की सोचने लग गए थे। पहली बार देखने पर वह लड़की मुझे भी बहुत अच्छी लगी थी। मैं उस लड़की को मन ही मन प्यार करने लग गया था। इसीलिए मैंने अपने दोस्तों से उस लड़की से दूर रहने के लिए कहा। मेरे मना करने के बाद सभी दोस्त उस लड़की से बहुत कम बातचीत करते थे। सच कहूं तो मैं उस लड़की को अपनी प्रेमिका बनाना चाहता था। 

एक ही शहर की होने की वजह से हमारे बीच बातचीत शुरू हो गई थी। कामिनी की एक पहेली जिसका नाम विशाखा था वह मेरी अच्छी दोस्त बन गई थी। मैंने अकेले में बैठकर विशाखा से कामिनी के बारे में पूछताछ की तो विशाखा ने बताया की कामिनी प्यार में बहुत कम विश्वास करती है। विशाखा ने कहा - कामिनी अपने जीवन में सिर्फ उसी लड़के से प्यार करेगी जो उसे अपनी जान से भी अधिक प्यार करता हो। जो लड़का कामिनी के दिल की भावना को समझ जाएगा वह उसका बॉयफ्रेंड बनेगा। Girl Bewafa Love Story In Hindi

कामिनी के बारे में पूरी जानकारी हासिल करने के बाद मैंने उसे अपना जीवन साथी बनाने की कसम खा ली थी। जब मैंने कामिनी के साथ बैठकर बात की तो मैं पूरी तरह से उस पर फिदा हो गया था। मैंने कभी भी नहीं सोचा था कि ट्रिप के दौरान मुझे एक खूबसूरत लड़की से प्यार हो जाएगा। कामिनी से बात करने के बाद मेरा मन उससे दूर जाने का बिल्कुल भी नहीं कर रहा था। पहले दिन कामिनी से थोड़ी बहुत देर बात करने के बाद में अपने दोस्तों के साथ होटल में चला गया।

कुछ देर बाद विशाखा ने कॉल करके बताया कि उन सभी लड़कियों का ग्रुप भी उसी होटल में ठहरा हुआ है। इतना सुनने के बाद मैं काफी खुश हो गया लेकिन दुख भी काफी हो रहा था क्योंकि कामिनी अगले दिन वहां से अपने शहर के लिए रवाना हो जाएगी। मैं सोच रहा था कि अगर कामिनी को प्रपोज नहीं किया तो वह मुझे कभी नहीं मिल पाएगी। मैं विशाखा के प्लान के अनुसार रात लगभग 10:00 बजे उनके कमरे में चला गया और सभी के साथ बैठकर बातचीत करने लगा। Girl Bewafa Love Story In Hindi

बातचीत करते हुए मैं सिर्फ कामिनी को ही देख रहा था। कामिनी भी कभी-कभी मेरी ओर देखकर अपनी नजरें झुका लेती थी। उस दिन मुझे विशाखा ने कामिनी के जन्मदिन के बारे में पहले ही बता दिया था। जन्मदिन का केक काटने के बाद मैंने कामिनी को उसकी पसंद का ही तोहफा दिया था। मेरे तोहफे को खोलने के बाद वह काफी खुश लग रही थी। मैंने भी उस मौके का फायदा उठाकर उसकी सभी दोस्तों के सामने उसको प्रपोज कर दिया। मेरे प्रपोज करने के बाद वह बहुत शर्मा गई थी लेकिन अपनी सभी सहेलियों के कहने के बाद उसने भी मुझे आई लव यू टू कह दिया था।

उस रात कामिनी को प्रपोज करने के बाद मैंने उससे रात भर बैठकर बातचीत की। एक दूसरे के साथ प्यार भरी बातें करने से मुझे ऐसे महसूस हो रहा था कि मानो हम एक दूसरे को पहले से जानते हैं। अगले दिन जैसे ही सुबह हुई मैं काफी परेशान हो गया था क्योंकि मुझे पता था कि उस दिन कामनी वापस अपने घर जा रही है। मुझे कामिनी का वापस जाना अच्छा नहीं लग रहा था लेकिन उसे रोकने की हिम्मत भी नहीं जुटा पा रहा था। Girl Bewafa Love Story In Hindi

एक रात में ही मुझे कामिनी से इतना लगाव हो गया था कि मैं भी उसके साथ वापस आने के लिए तैयार हो गया था। मैंने अपने दोस्तों से वापस घर आने के लिए पापा के बीमार होने का बहाना बनाया था ताकि किसी को लड़की के प्यार के मामले का पता ना चले। उधर सभी लड़कियों ने अपने अपने सामान पैक कर लिए थे और मैंने भी कामिनी से बिना कहे सामान पैक कर के गाड़ी में जाकर बैठ गया। जैसे ही कामिनी अपने दोस्तों के साथ नीचे आई तो उसने मुझे गाड़ी में बैठा हुआ देखकर पूछा - नीतीश! तुम कहां जा रहे हो। 

मैंने कामिनी से कहा - मेरे पापा अचानक बीमार हो गए हैं इसलिए मैं वापस अपने घर जा रहा हूं। मैंने उससे पूछा - तुम कहां जा रही हो। कामिनी ने जवाब - घूमते हुए काफी दिन हो गए हैं इसलिए वापस घर जा रहे हैं। मैं - तुम मेरे साथ चलो मै, मैं भी वापस घर ही जा रहा हूं। कामिनी - नहीं, तुम चलो मैं अपने दोस्तों के साथ आ जाऊंगी। मैंने कहा - पागल मत बनो, तुम्हें मेरे साथ चलने में क्या परेशानी है। कामिनी ने जवाब दिया - कोई भी परेशानी नहीं है लेकिन तुम्हें जल्दी है इसलिए तुम जाओ। Girl Bewafa Love Story In Hindi

मेरे कई बार कहने के बाद भी वह मना करती रही। उसके मना करने के बाद में कामिनी सिर्फ गुस्सा होकर वहां से अपनी गाड़ी निकाल कर घर के लिए रवाना हो जाता हूं। मैं सिर्फ कामिनी के साथ आने लिए ही घर आया था बल्कि पापा के बीमार होने का तो मैंने सिर्फ बहाना बनाया था। उसके साथ ना आने की वजह से मैं कामिनी से बहुत नाराज हो गया था। और उसी नाराजगी ने मेरी जिंदगी से कामिनी को हमेशा के लिए दूर कर दिया। 

मेरे लिए कामिनी का प्यार सिर्फ 2 दिन का प्यार बनकर रह गया। मेरे वापस आने के बाद कामिनी ने मुझे एक बार भी कॉल नहीं किया। मैंने जब भी उसको कॉल करने की कोशिश की तो उसका मोबाइल हमेशा स्विच ऑफ बताता रहा। कामिनी के 2 दिन के प्यार में मुझे पूरी तरह से तोड़ कर रख दिया। मुझे उन 2 दिनों में उससे इतना लगाव हो गया था कि मैं उसके बिना एक पल भी नहीं रहना चाहता था लेकिन पता नहीं मेरे प्यार में ऐसी कौनसी कमी रह गई थी जिसकी वजह से उसने मुझे एक बार भी याद नहीं किया था। Girl Bewafa Love Story In Hindi

आज मैं जब भी उसकी प्यार भरी बातें याद करता हूं तो मेरी आंखों से आंसू निकल आते हैं। मुझे जीवन भर अफसोस रहेगा कि मैंने एक बेवफा लड़की से बहुत मोहब्बत की थी। कामिनी ने कभी भी मुझे अपना की कोशिश भी नहीं की। समय गुजरने के साथ साथ मैंने उन दो दिनों को जीवन का सबसे बुरा समय समझ कर भुलाने कोशिश की। मैं ही पागल था जो उसको पाने के लिए बेकरार हो गया था। 

Also Read - धोखेबाज की कहानी | Very Heart Touching Sad Love Story In Hindi 

प्यार में इतना दर्द किसी को ना मिले :- Sad Love Story Hindi